कुल पेज दृश्य

सोमवार, 14 सितंबर 2015

स्पेशल केश

                                                                        स्पेशल केश   ;                                                                    
1 . कुछ ऐसे व्यवित होते है जिनकी जीभ अन्दर से जुड़ी हुई होती है। यदि इनसे यह कहे कि जीभ बाहर निकालिये तो इनकी जीभ बाहर कम निकलती है। यदि ऐसे व्यवित हकलाते या तुतलाते है तो सबसे पहले इनको चाहिये कि आपने आसपास के शहर में नाक,कान,गला विशेष डाक्टर से अपनी जीभ चेकअप करवाये। सामन्यतः यह डॉकटर एक छोटा सा आपसेशन करते है तब आपकी जीभ बाहर पूरी तरह निकलने लगेगी , इसके बाद यदि आपको स्पीच ठीक नही होती तो आप हमारे यहाँ आइये। हम आपको स्पीच ट्रेनिंग देंगे। हमरे यह आने से पहले व्यवित को फिजिकली एवं बदिकली फिट होना  चाहिये।
2 .  गले के रोग जैसे Tonsilitis ,Uvulitis आदि से पीड़ित हो तो पहले आप नाक,कान,गला विशेषज्ञ डॉकटर से सम्पर्क करे फिर भी ठीक न हो हमारे यहाँ आये।
3 .  कुछ व्यवितयो को जन्म से ही बिलकुल सुनाई नही देता है तब ये व्यवित बोल भी नही पाते है। इसके लिये मूक,बघिर विहालय प्रत्येक जिले में संचालित है, आप वह जाकर शिक्षा प्रप्त कर सकते है, हमारे यहाँ भी मूक, बघिरो की शिक्षा एवं हास्टल की व्यवस्था करना पस्तावित है लेकिन अभी संचालित नही है।                                                

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें