कुल पेज दृश्य

बुधवार, 9 सितंबर 2015

हकलाने वाला व्यक्ति गुस्सा एवं तनाव मे जल्दी आता है एवं झगडालू प्रवत्ति का होता है ऐसा क्यों ?

हकलाने वाला  व्यक्ति  गुस्सा एवं तनाव मे जल्दी आता है, एवं झगडालू  प्रवत्ति  का होता है ऐसा क्यों ? ; किसी भी व्यवित को गुस्सा तब आता है जब मन के अनुरूप कार्य नही होता तथा तनाव तब होता है जब ब्रेन  को क्षमता से अधिक कार्य लिया जाता है,हकलाने वाले व्यवित का मन ठीक बोलना चाहता है लेकिन ब्रेन अपनी आदत बिगड़ चूका हैं,ब्रेन को रुककर या तुतलाकर बोलने की आदत पड़ चुकी है अर्थात मन के अनुरूप ब्रेन कार्य नही करता इसीलिये हकलाने वाले को गुस्सा जल्दी आता है ब्रेन चौबीस घण्टे हास्य एवं सामाजिक यातना का शिकार होता हैं इसीलिये तनवा बढ़ता हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें